Best 100+ ilzaam Shayari in Hindi | इल्जाम शायरी

 Best 100+ ilzaam Shayari in Hindi | इल्जाम शायरी

ilzaam shayari :-  दोस्तों जब आप किसी से प्यार करते हैं और वही इंसान आप पर उसकी अच्छाई को दिखा कर आप पर इल्जाम लगते हैं और सिर्फ प्यार में ही नहीं यह इल्जाम तो हर किसी पर लगा सकते हैं और बहुत सी ऐसी परिस्थिति होती जब आप पर या आप किसी पर इलज़ाम लगा देते हैं तो दोस्तों आज हम आपके लिए Best 100+ ilzaam Shayari in Hindi | इल्जाम शायरी ले कर आये हैं। 

ilzaam shayari image
ilzaam shayari image

ilzaam shayari

जान कर भी वो मुझे जान न पाए,
आज तक वो मुझे पहचान न पाए,
खुद ही कर ली बेवफाई हमने,ताकि 
उन पर कोई इलज़ाम न आये। 

Jaan Kar Bhi Wo Mujhe Jaan Na Paye,
Aaj Tak Wo Mujhe Pehchaan Na Paye,
Khud He Kar Li Bewafai Humne,
Taaki Un par Koi Ilzaam Na Aaye.



ilzaam shayari in Hindi

मोहब्बत तो दिल से की थी, दिमाग उसने 
लगा लिया दिल तोड़ दिया मेरा उसने और 
इल्जाम मुझपर लगा दिया.

Mohababt to dil se ki thi, deemag 
use laga diya Dil tod diya mera 
usne aur ilzaam mujh par laga diya.

ilzaam shayari images
ilzaam shayari images

ilzaam shayari 2021

हर इल्जाम का हकदार वो हमे बना जाते है,
हर खता कि सजा वो हमे सुना जाते है,हम 
हरबार खामोश रह जाते है,क्योकी वो 
अपना होने का हक जता जाते है. 

Har Ilzaam ka hakdaar woh hame 
bana jaate hai,Har khata ki saza wo 
hame suna jaate hai,Hum har baar 
khamosh reh jate hai,Kyuki wo apna 
hone ka hak jata jaate hai.




ilzaam shayari in Hindi 2021

तू कहीं भी रहे, सिर तुम्हारे इल्ज़ाम तो हैं,
तुम्हारे हाथों के लकीरों में मेरा नाम तो हैं.
Tu Kahi bhi rahe, Sir tumhare ilzaam 
toh hai,Tumahre haato ke lakiro mein 
mera naam to hai.

  • यह भी पढ़ें एक बार :-

ilzaam shayari image 2021
ilzaam shayari image 2021

ilzaam shayari Hindi

झूठे “इल्ज़ाम” मेरी जान लगाया ना करो,
दिल हैं नाजूक इसे तुम ऐसे दुखाया ना करो,
झूठे “इल्ज़ाम” मेरी जान लगाया ना करो.

jhoote ilzaam meri jaan lagaya naa karo
dil hai naajuk ise tum ese dukhaya na karo
jhoote ilzaam meri jaan lagaya naa karo.


 

ilzaam shayari Hindi mai

किस्मतें बदल जाती है, जब ज़िन्दगी का कोई 
मकसद हो, वरना ज़िन्दगी तो कट ही जाती है, 
तकदीर को इल्जाम देते देते।

Kismaten Badal Jaati Hai, 
Jab Zindagi Ka Koi Maksad Ho, 
Varna Zindagi To Kat Hi Jaati Hai, 
Takdeer Ko Iljaam Dete Dete.

ilzaam shayari in hindi image
ilzaam shayari in hindi image

Best ilzaam shayari

मोहब्बत तो दिल से की थी,
दिमाग उसने लगा लिया,
दिल तोड़ दिया 'मेरा' उसने,
और “इल्ज़ाम” मुझपर लगा दिया.

Mohabbat to dil se ki thi
dimag usne lagaa liya dil tod
diya mera usne aur ilzaam mujh
par laga diya.



Jhoote ilzaam shayari

इल्ज़ाम लगा देने से बात सच्ची नही हो जाती,
दिल पे क्या बीतती हैं किसी से कही नही जाती.
ilzaam laga dene se bat sachi nahi ho 
jati dil pe kya bitati hai kisi se kahi nahi jati.

ilzaam shayari in hindi images
ilzaam shayari in hindi images

Jhoote ilzaam shayari in Hindi

हर बार इल्जाम हम पर ही लगाना ठीक नहीं
वफ़ा खुद से नहीं होती खफा हम पर होते हो.. 

Har Baar Ilzaam Ham Par Hi Lagana 
Theek Nahin Wafa Khud Se Nahin 
Hoti Khafa Ham Par Hote Ho.



Jhute ilzaam shayari

हम ने देखी है इन आँखों की महकती खुशबू
हाथ से छूके इसे रिश्तों का इल्ज़ाम न दो
सिर्फ़ एहसास है ये रूह से महसूस करो
प्यार को प्यार ही रहने दो कोई नाम न दो.

Hum ne dekhi hai in Aankho ki mahakti 
khushbu hath se chuke ise rishton ka ilzaam
na do sirf ehsas hai ye ruh se mahsus karo
pyar ko pyar hi rehne do koi naam na do.

ilzam shayari images
ilzam shayari images

shayari on ilzaam

तू कहीं भी रह तेरे सर पे इल्जाम तो है,
तेरे हाथों की लकीरों में मेरा नाम तो है,
मुझे अपना बना या ना बना तेरी मर्जी,
पर तू मेरे नाम से बदनाम तो है।

Tu kahin bhi rhe tere sar pe ilzaam to 
hai tere hathon ki lakiron me meranaam 
to hai mujhe apna bna ya na bna teri marji 
par tu mere naam se badnaam to hai.



ilzaam shayari 2 line

बेवफ़ा तो वो ख़ुद हैं,
पर इल्ज़ाम किसी और को देते हैं,
पहले नाम था मेरा उनके लबों पर,
अब वो नाम किसी और का लेते हैं..

Bewafa to wo khud hai par ilzaam
kisi aur ko dete hain pehle naam tha
mera unke labon par ab wo naam kisi
aur ka lete hain.

ilzam shayari hindi image
ilzam shayari hindi image

bewajah ilzaam shayaari

उदास ज़िन्दगी, उदास वक्त, उदास 
मौसम,न जाने कितनी चीज़ों पे इल्ज़ाम
लग जाता है एक तेरे बात न करने से.

Udas zindagi, udas waqt udas 
mosam na jane kitni cheezon pe 
ilzaam lag jata hai ek tere bat na 
karne se.



ilzaam sad shayari

हर बार हम पर,इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत 
का,कभी खुद से पूछा है,की इतने हसीन क्यों हो।
Har bar hum par ilzaam laga dete ho 
mohabbat ka kabhi khud se pucha hai 
ki itne hasin kyun ho.

ilzaam shayri images
ilzaam shayri images

ilzaam par shayari

ये हुस्न तेरा ये इश्क़ मेरा
रंगीन तो है बदनाम सही
मुझ पर तो कई इल्ज़ाम लगे
तुझ पर भी कोई इल्ज़ाम सही. 

Ye husn tera ye ishq mera
Rangeen to hai badnaam sahi
Mujh par to kai ilzaam lage
Tujh par bhi koi ilzaam sahi.



ilzaam par shayari in Hindi

बुरे नहीं थे बस हम पर बुरे होने 
का नाम लग था, अब बन गए हैं 
वैसे ही जैसा हम पर इलज़ाम लगा था।

Bure nahi the bas hum par bure 
hone ka naam laga tha ab ban gye ha
wese hi jesa hum par ilzaam laga tha.

ilzaam status images
ilzaam status images

iljaam lagana shayari

खुद न छुपा सके वो अपना चेहरा नकाब में,
बेवजह हमारी आँखों पे इल्ज़ाम लग गया।.
Khud Na Chhupa Sake Wo Apna 
Chehra Nakaab Mein,Bewajah Humari 
Aankhon Pe ilzaam Lag Gaya.



ilzaam wali shayari 

इल्जाम जो तुमने दिए साथ लिए फिरता हूँ सदा
खिताब जो मिले दुनिया से अलमारी में कैद है।
Ilzaam jo tumne diya sath liye firta hun
sada khitab jo mile duniya se almari me 
ked hai.

ilzaam status images in Hindi
ilzaam status images in Hindi

ilzaam wali shayari in Hindi

दिल-ए-बर्बाद का मैं तुझे इल्ज़ाम नहीं देता, 
हाँ अपने लफ़्ज़ों में तेरे जुर्म जरूर लिखता हूँ, 
लेकिन तेरा नाम नहीं लेता।

Dil-e-barbad ka me tujhe ilzaam nahi 
deta hain apne lafzon me tere jurm
zarur likhta hun lekin tera naam nhi leta.



ilzaam status in hindi

मै अपने दुश्मनों के वास्ते भी, काम आती हूँ
कोई इल्जाम देना हो, मुझे ही याद करते है.
me apne dushmano ke waste bhi kam 
Aati hun koi ilzaam dena ho mujhe hi yad
karte hain.

ilzaam quotes image
ilzaam quotes image

ilzaam status

हँस कर कबूल क्या कर ली सजाएँ मैंने,
ज़माने ने दस्तूर ही बना लिया,
हर इलज़ाम मुझ पर मढ़ने का.

Has kar kabul kya kar li sajayen
mene jamne ne dastur hi bna liya
har ilzaam mujh par madne ka..


ilzaam status for whatsapp

दिल की ख्वाहिश को नाम क्या दूँ,
प्यार का उसे पैगाम क्या दूँ,दिल में 
दर्द नहीं, उसकी यादें हैं,अब यादें 
ही दर्द दे,तो उसे इल्ज़ाम क्या दूँ।

Dil ki khwahish ko naam kya dun
pyar ka use pegam kya dun dil me
dard nahi uski yaden hai ab yaden
hi dard de to use ilzaam kya dun.

ilzaam quotes images
ilzaam quotes images

ilzaam status for facebook

ज़हर देने वाले कई है कम है 
दवाई देने वाले, मैं खुद को गलत 
क्यों ना ठहराऊं कोई है ही नहीं 
मेरे हक़ में गवाही देने वाले।

jahar dene wale kai hai kam hai
dawai dene wale me khud ko glt
kyun na thahraun koi hai hi nhi
mere hak me gawahi dene wale.



ilzaam status for fb

दिल का हाल बताना नहीं आता,
किसी को ऐसे तड़पना नहीं आता,
सुनना चाहते है आपके आवाज़,
मगर बात करने का बहाना नहीं आता। 

Dil ka haal batana nahi Aata kisi
ko ese tadpana nahi Aata sunna 
chahte hai apke awaz magar baat 
karne ka bahana nahi Aata.

jhoote ilzaam shayari images
jhoote ilzaam shayari images

ilzam status

बस यही सोचकर कोई सफाई नहीं दी हमने।
कि इलज़ाम झूठे ही सही पर लगाये तो मेरे अपने हैं।
bas yahi sochkar koi safai nahi di humne
ki ilzaam jhute hi sahi par lagaye to mere 
apne hain.


jhoote ilzaam status

सुना है वो जाते हुए कह गये, के अब तो
हम सिर्फ़ तुम्हारे ख्वाबो मे आएँगे, 
कोई कह दे उनसे के वो वादा कर ले, 
हम जिंदगी भर के लिए सो जाएँगे..

Suna Hai Wo Jate Hue Keh Gaye, ke Ab 
To Hum Sirf Tumare Khwabo Me Ayenge, 
Koi Keh De Unse Ke Wo Wada Kar Lee, 
Hum Jindagi Bhar Ke Liye So Jayenge..

ilzaam shayari image
ilzaam shayari image

ilzaam shayari status

मुझे इश्क है बस तुमसे नाम बेवफा मत देना,
गैर जान कर मुझे इल्जाम बेवजह मत देना,
जो दिया है.
mujhe ishq hai bas tumse naam bewafa
mat dena ger jaan kar mujhe ilzaam 
bewajah mat dena jo diya hai.



ilzaam hindi whatsapp status

दिल के दरिया में धड़कन की कश्ती है,
ख़्वाबों की दुनिया में यादों की बस्ती है,
मोहब्बत के बाजार में चाहत का सौदा है,
वफ़ा की कीमत से तो बेवफाई सस्ती है।.

Dil ke dariya me dhadkan ki kashti
hai, khwabon ki duniya me yadon ki basti
hai, mohabbat ke bazar me chahta ka soda 
hai, wafa ki kimat se to bewafai sasti hai.

ilzaam images
ilzaam images

ilzaam whatsapp status

बहुत दर्द भरा है दिल में ना जाने 
किस को बयान दो मंजिले रुसवा हो 
जाएंगी अगर मंजिल पर ध्यान ना दो.

Bahut dard bhara hai dil me naa 
jane kis ko bayan do manzile rushwa
ho jayengi agar manzil par dhayan na do.



ilzaam quotes in hindi

दिल का हाल बताना नहीं आता,
किसी ऐसे तड़पाना नहीं आता,
सुनना चाहते हैं आवाज आपकी,
मगर बात करने का बहाना नहीं आता,
 
Dil Ka Hal Batana Nhi Aata,
Kisi Yese Tarpana Nhi Aata,
Sunna Chahte Hai Aawaj Aapki,
Magar Bat Karne Ki Bahana Nhi Aata,.

ilzaam shayari images 2021
ilzaam shayari images 2021

jhute ilzaam status

मिल भी जाते हैं तो कतरा के निकल जाते हैं,
हैं मौसम की तरह लोग... बदल जाते हैं,
हम अभी तक हैं गिरफ्तार-ए-मोहब्बत यारों,
ठोकरें खा के सुना था कि संभल जाते हैं।.

Mil Bhi Jate Hain Toh Katra Ke Nikal 
Jate Hain,Hain Mausam Ki Tarah Log
Badal Jaate Hain,Hum Abhi Tak Hain 
Giraftar-e-Mohabbat Yaaro,Thokarein 
Kha Ke Suna Tha Ke Sambhal Jate Hain.



ilzaam quotes

हम आपके प्यार में कुछ कर न 
जायें बन के रूह बिछड़ ना जायें
भूलना मुमकिन नहीं है आपको
मरने से पहले कही मर ना जायें.. 

Hum Aapke Pyaar Me Kuch Kar Naa 
Jaayei,Ban Ke Ruh Bichad Naa Jaayei,
Bhulna Mumkin Nahi Hai Aapko,Marne 
Se Pehale Kahi Marr Naa Jaayei..

ilzaam shayari images
ilzaam shayari images

galat ilzam quotes

हमारा ज़िक्र भी अब जुर्म हो गया है वहाँ,
दिनों की बात है महफ़िल की आबरू हम थे,
ख़याल था कि ये पथराव रोक दें चल कर,
जो होश आया तो देखा लहू लहू हम थे।

Humara Zikr Bhi Ab Jurm Ho Gaya Hai 
Wahan,Dino Ki Baat Hai Mefil Ki Aabru 
Hum The,Khayal Tha Ke Yeh Pathrav 
Rok Dein Chal Kar,Jo Hosh Aaya Toh 
Dekha Lahu Lahu Hum The.



ilzaam shayari in urdu

उल्फत में अक्सर ऐसा होता है
आँखे हंसती हैं और दिल रोता है
मानते हो तुम जिसे मंजिल अपनी
हमसफर उनका कोई और होता है.

ulfat me aksar esa hota hai
Aankhe hasti hai aur dil rota ha
mante ho tum jis manzil apni 
hum safar unka koi aur hota hai.

ilzaam shayari images
ilzaam shayari images

jhoota ilzam quotes

जा के कोई कह दे, शोलों से चिंगारी से
फूल इस बार खिले हैं बड़ी तैयारी से 
बादशाहों से भी फेके हुए सिक्के ना लिए
हमने खैरात भी मांगी है तो खुद्दारी से..

Jaa ke koi keh de sholon se chingari
se ful is bar khile hain badi taiyari se
badshahon se bhi feke huye sikke na
liye humne kherat bhi mangi hai to 
khuddari se.



shayari on ilzaam

तेरे ख्याल से खुद को छुपा के देखा है,
दिल-ओ-नजर को रुला-रुला के देखा है,
तू नहीं तो कुछ भी नहीं है तेरी कसम,
मैंने कुछ पल तुझे भुला के देखा है।

Tere khyal se khud ko chupa ke dekha
hai dil-o-nazar ko rula-rula ke dekha hai
tu nahi to kuch bhi nhi hai teri kasam mene
kuch pal tujhe bhula ke dekha hai.

ilzaam shayari images
ilzaam shayari images

इल्जाम शायरी

अपने हाथों से यूँ चेहरे को छुपाते क्यूँ हो,
मुझसे शर्माते हो तो सामने आते क्यूँ हो,
तुम भी मेरी तरह कर लो इकरार-ए-वफ़ा अब,
प्यार करते हो तो फिर प्यार छुपाते क्यूँ हो.

Apne hathon se yun chehre ko chupate
kyun ho mujhse sharmate ho to samne 
aate kyun ho tum bhi meri tarh kar lo 
ikrar-e-wafa ab pyar karte ho to fir pyar
chupate kyun Ho. 



इल्जाम शायरी इन हिंदी

रिश्तें टूट कर चूर चूर हो गये,धीरे-धीरे 
वो हमसे दूर हो गये, हमारी खामोशी 
हमारे लिये गुनाह बन गई, और वो 
गुनाह कर के बेकसूर हो गये।

Rishte tut kar chur chur ho gaye dhire
dhire wo humse dur ho gaye humari 
khamoshi humare liye gunah ban gai
aur wo gunah karke bekasur ho gye.

ilzaam shayari images
ilzaam shayari images


















इल्जाम शायरी 2021

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से
हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से
तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले
कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से.

bahut udas hai koi shakhs tere jane se
ho sake to lot ke aajaa kisi bahane se
tu lakh khafa ho par ek bar to dekh le
koi bikhar gaya hai tere ruth jane se.



इल्जाम शायरी हिंदी

गलती हुई हमसे मान हमने लिया
गलत हम थे जान  हमने लिया अब ना 
करेंगे कुछ ऐसा जो बुरा लगे आपको
अब ये दिल में ठान हमने लिया.

Galti hui humse man humne liya
galt hum the jaan humne liya ab na
karenge kuch esa jo bura lage apko
ab ye dil me than humne liya.



इल्जाम पर शायरी

इतना खूबसूरत चेहरा है तुम्हारा,हर 
दिल दीवाना है तुम्हारा, लोग कहते है 
चाँद का तुकडा हो तुम,लेकिन हम 
कहते है चाँद तुकडा है तुम्हारा.

itna khubsurat chehra hai tumhara 
har dil diwana hai tumhara log kehte
hain chand ka tukda ho tum lekin hum
kehte hai chand tukda hai tumhara.



झूठे इल्जाम शायरी

हर प्यार में एक एहसास होता है,  
हर काम का एक अंदाज होता है,  
जब तक ना लगे बेवफाई की ठोकर,  
हर किसी को अपनी पसंद पे नाज़ होता है.

Har pyar me ek ehsas hota hai
har kam ka ek andaz hota hai jab 
tak naa lage bewafai ki thokar har
kisi ko apni pasand pe naaz hota hai.



इल्जाम लगाना शायरी

आँखों में देख कर वो दिल की हकीकत 
जानने लगे उनसे कोई रिश्ता भी नहीं फिर 
भी अपना मानने लगे बन कर हमदर्द कुछ 
ऐसे उन्होंने हाथ थामा मेरा कि हम खुदा से 
दर्द की दुआ मांगने लगे।

Aankho me dekha kar wo dil ki hakikat
janne lage unse koi rishta bhi nahi fir
bhi apna manne lage ban kar hum dard
kuch ese unhone hath thama mera ki hum
khuda se dard ki dua mangane lage.




इल्जाम वाली शायरी

अफसोस होता हैं उस पल का,
जब अपनी पसंद कोई और चुरा 
लेता हैं, ख्वाब हम देखते रहते हैं,
और हकीकत कोई और बना लेता हैं.

Afhsos Hota Hai Us Pal Ka,
Jab Apni Pasand Koei Our Chura 
Leta Hai,Khawab Ham Dekhte Hai,
Our Hakikt Koei Our Bna Leta Hai



इल्जाम वाली शायरी इन हिंदी

जिंदगी के लिये जान ज़रूरी है,
जीने के लिये अरमान ज़रूरी है,
हमारे पास हो चाहे कितना भी गम,
लेकिन तेरे चहरे पर मुस्कान ज़रूरी है।

Zindagi ke liye jaan zaruri hai jeene
ke liye Arman zaruri hai humare pass
ho chahe kitna bhi gam lekin tere chehre
par muskan zaruri hai.




इल्जाम पर शायरी हिंदी

होठों पर मोहब्बत के फ़साने नहीं आते,
साहिल पर समंदर के खजाने नहीं आते,
पलकें भी चमक उठती हैं सोते हुए हमारी,
आँखों को अभी ख्वाब छुपाने नहीं आते।

Hothon par mohabbat ke fasane nahi
Aate sahil par samandar ke khajane nhi 
aate palkon bhi chamak uthti hai sote huye
humari Aankho ko abhi khwab chupate nhi ate.



Jhute ilzam shayari

दिल से महसूस कर सकते हैं उस दर्द को,
जो तेरी कलम ने एक-एक करके तराशा है।
Dil Se Mahsoos Kar Sakte Hain Uss Dard Ko,
Jo Teri Kalam Ne Ek Ek Karke Tarasha Hai..



हम झूठे ही सही शायरी

तू ना निभा सकी तो क्या मै अपनी मोहब्बत को 
अंजाम दूंगा तुझसे मिलना ना हुआ नसीब में तो क्या
 हुआ मै अपनी औलाद को तेरा नाम दूंगा.

tu naa nibha saki to kya me apni mohabbat
ko anjaam dunga tujhse milna na hua nasib 
me to kya hua me apni aulad ko tera naam dun.



ilzaam Hindi shayari

मेरी यादें मेरा चेहरा मेरी बातें रुलायेंगी,
हिज़्र के दौर में गुज़री मुलाकातें रुलायेंगी,
दिनों को तो चलो तुम काट भी लोगे फसानों में,
जहाँ तन्हा मिलोगे तुम तुम्हें रातें रुलायेंगी।

Meri Yaadein Mera Chehra Meri Baatein 
Rulayengi,Hijr Ke Daur Mein Gujri Mulakatein 
Rulayengi,Dino Ko Toh Chalo Tum Kaat Bhi 
Loge Fasano Mein, Jahan Tanha Miloge Tum 
Tumhein Raatein Rulayengi.



pyar me ilzaam shayari

मेरी आँखों में छुपी उदासी को कभी 
महसूस तो कर, हम वो हैं जो सब को 
हंसा कर रात भर रोते है.

Meri Ankho me chupi udasi ko kabhi
mahsus to kar hum wo hai jo sab ko
hansa kar raat bhar rote hain



galat ilzaam shayari 

भरोसा तोड़ने वाले के लिए ,
बस यही एक सजा काफ़ी हैं 
उसको जिंदगी भर की ,
ख़ामोशी तोहफे में दे दी जाए.

bharosa todne wale ke liye
bas yahi ek saja kafi hai usko
zindagi bhar ki khamoshi tohfe
me de di jayen..



Pyar me ilzaam shayari in Hindi

कुछ नहीं तो सड़कों पर चुगलिया सरे-आम 
लगा लेते हैं, हम ज़माने वाले है हमे सब माफ़ है 
आओ सब पर इलज़ाम लगा देते हैं।

Kuch nahi to sadkon par chugaliya saream
laga lete hain hum jamne wale hai hume
sab maf hai aao sab par ilzaam laga dete h.




Galat ilzaam shayari in Hindi

मेरे अल्फ़ाज़ को आदत है हौले से मुस्कुराने की,
मेरे शब्द कि अब किसी पर इल्ज़ाम नहीं लगाते।
mere alfaz ko adat hai hole se muskurane 
ki mere shabd ki ab kisi par ilzaam nhi lagte.



ilzaam shayari rekhta

हँसते-हँसते हूँ हवाले तेरे बता सजा 
क्या है, जानता हूँ मोहोब्बत गुनाह है 
नहीं पूछूंगा वजह क्या है। 
Haste-haste hun hawale tere bata
saja kya hai janta hun mohabbat 
Gunah hai nahi puchunga wajah kya hai.



ilzaam ki shayari

अधूरी हसरतो का आज भी इल्ज़ाम है तुम पर,
अगर तुम चाहते तो यह मोहब्बत खत्म न होती.
Adhuri Hasraton Ka Aaj Bhi Ilzaam Hai 
Tum Par, Agar Tum Chahte To Yeh 
Mohabbat Khatm Na Hoti.



ilzaam par shayari Hindi

मेरी नजरों की तरफ देख जमानें पर न जा,
इश्क मासूम है इल्जाम लगाने पर न जा।
Meri Najron Ki Taraf Dekh Zamane 
Par Na Ja,Ishq Masoom Hai Ilzaam 
Lagane Par Na Ja.



jhoota ilzaam Quotes

उदास जिन्दगी, उदास वक्त, उदास मौसम,
कितनी चीजो पे इल्जाम लगा है तेरे ना होने से।
Udas Zindagi, Udas Waqt, Udas Mousam,
Kitni Cheejon Pe Ilzaam Laga Hai Tere Na 
Hone Se.



Galat ilzaam Quotes

हँस कर कबूल क्या कर ली सजाएँ मैंने ज़माने ने 
दस्तूर ही बना लिया हर इलज़ाम मुझ पर मढ़ने का.
Has kar kabool kya kar li sajayen maine
Jamane ne dastoor hi bana liya har ilzaam 
mujh par madhne ka.



shayari for ilzaam

तूमने ही लगा दिया इल्ज़ाम-ए-बेवफ़ाई,
अदालत भी तेरी थी गवाह भी तू ही थी।
Tumne Hi Laga Diya Ilzaam-E-Bewafai,
Adalat Bhi Teri Thi Gavaah Bhi Tu Hi Thi.



ilzaam whatsapp status shayari

चिराग जलाने का सलीका सीखो साहब
हवाओं पे इल्ज़ाम लगाने से क्या होगा.
Chiraag jalane ka saleeqa seekho saahab
Hawaon pe ilzaam lagaane se kya hoga.



दोस्तों हम उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा शेयर की गई आज की ilzaam shayari पसंद आई होंगी अगर आपको भी हमारी शायरी पसंद आई हैं तो हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के ज़रूर बातएं और ये भी बताएं की आपको हमारी सभी शायरी में से कोनसी शायरी सबसे ज्यादा पसंद आई है और हमारी शायरी आप अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं और अपने whatsapp, facebook, instagram और सभी social media पर शेयर कर सकते हैं। 

दोस्तों कभी प्यार में इल्जाम तो कभी किसी का इल्जाम लोग आप पर लगा देते होंगे अगर आप किसी से प्यार करते हैं और वो आपको धोखा देता आप उस पर इल्जाम लगाते होंगे या आप पर भी इलज़ाम लगे होंगे कभी न कभी तो आज हम इन्ही इल्जाम पर लिखी गई शायरी आपके साथ शेयर करने जा रहे हैं। 

धन्यवाद। 

Post a Comment

0 Comments